प्रेरणास्रोत – पूज्य संत श्री आशारामजी बापू

भारत को विश्वमानव की पीड़ा हरनेवाला बनाना है और बनेगा... ऐसी कई आत्माएँ प्रकट हो चुकी हैं, और कई होंगी । मेरे करोड़ों बच्चे भारत को विश्वगुरु बनायेंगे । आनेवाले वर्षों में भारत विश्वगुरु के पद से अवश्य सम्मानित होगा, इसमें कोई संदेह नहीं है ।

पूज्य बापूजी कहते हैः स्वस्थ, सुखी एवं सम्मानित जीवन मनुष्यमात्र की माँग है और इसे पूर्ण करने के लिए समग्र विश्व में केवल भारतीय संस्कृति read more...

image description

दिव्य शिशु संस्कार


आयोजन


ब्लॉग


तस्वीरें

loader